प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आजकल रोज देश में लोगों को प्रदूषण कम करने की नसीहत देते हैं, लेकिन यह नई खबर यही संकेत देती है कि केंद्र सरकार जल्द ही इन बातों पर अमल कर सकती है. अब खबर है कि केंद्र सरकार के मंत्री समेत कई सरकारी अधिकारी प्रदूषण को रोकने के लिए देश में जल्द ही इलेक्ट्रिक कार की सवारी करते हुए नजर आ सकते हैं. सितम्बर में लॉन्च होगी टाटा की नयी इलेक्ट्रिक कार, जाने इसके फीचर्स और कीमत

देश में अब दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक कारें 

दरअसल, भारत सरकार ने देश में बढ़ते प्रदूषण को रोकने के लिए लगभग 10, 000 इलेक्ट्रिक कार ‘सेडान’ खरीदने का फैसला किया है. इसके लिए दिल्ली-एनसीआर के इलाकों में करीब 4000 चार्जिंग स्टेशन बनाने पर विचार किया जा रहा है. कुछ रिपोर्ट बताती हैं कि पहले 1000 गाड़ियां भारत में आयेंगी, फिर इसके बाद दूसरे क़िस्त में 9000 गाड़ियों को मंगाया जा सकता है. इसको लेकर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि “हमने इसके लिए टेंडर निकाल दिए हैं, हम जल्द ही सभी सरकारी विभागों के साथ इस योजना की शुरुआत कर सकते हैं”

इतनी होगी कार की स्पीड 

इसके साथ बता दें कि Energy Efficiency Service Ltd के एमडी सौरभ कुमार ने कहा है कि कंपनी अगले कुछ समय में लगभग 1000 चार सीटों वाली इलेक्ट्रिक कार खरीदेगी, जिनकी गति 120-150 किमी/घंटा की हो सकती है, अनुमान है कि मंत्रियों और सरकारी अधिकारीयों को मुहैया कराई जाने वाली यह कार NDMC इलाकों में करीब 300-400 की संख्या में दौड़ सकती हैं.

भारत के पेट्रोल पंप पर असर 

बता दें कि इस इलेक्ट्रिक कार को नवंबर महीने से सड़कों पर देखा सकता है और कुछ रिपोर्ट बताती हैं कि दुनिया में अभी केवल 1 फीसदी ही इलेक्ट्रिक कारें मौजूद हैं लेकिन उम्मीद है कि आने वाले कुछ सालों में ये आकड़ा 30 फीसद तक पहुंच सकता है. इसके अलावा कुछ रिपोर्ट ने यह भी दावा किया है कि अगर भारत सरकार ने इलेक्ट्रिक कार के इस योजना को पूरा कर दिया तो देश में मौजूद 53 हजार पेट्रोल पंपों पर खासा असर देखने को मिल सकता है. दो दिन बाद बाजार में आने वाली है सबसे दमदार इलेक्ट्रिक कार, GST लागू होने के बाद इतनी कम होगी कीमत

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here