Lucknow: Samajvadi Party supremo Mulayam Singh Yadav with Uttar Pradesh Chief Minister Akhilesh Yadav during Samajwadi Party's Three-Day Convention in Lucknow on Wednesday. PTI Photo by Nand Kumar(PTI10_8_2014_000150B)

सपा पार्टी में मचे सियासी संगाम में बाप-बेटे की लड़ाई में आखिरकार बाप को बेटे के आग झुकना पड़ा है, जी हां हम बात कर रहे मुलायम अखिलेश की लड़ाई की,जिसमें मुलायम ने अखिलेश के सामने घुटने टेक दिए हैं। सोमवार को मुलायम सिहं ने कहा कि अखिलेश ही पार्टी के सीएम का चेहरा होंगे। जिसके बाद एक बार फिर कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों गुटों के बीच आपसी सहमित बन गई है। मंगलवार को मुलायम-अखिलेश के बीच करीब 2 घंटे तक बैठक चली। 

यह भी पढ़ें- आज सीएम अखिलेश से मुलाकात करेंगे राहुल गांधी, हो सकता है यह बड़ा फैसला

मुलायम- अखिलेश की बैठक

मंगलवार को मुलायम-अखिलेश की करीब 2 घंटे तक बैठक चली। जानकारी के मुताबिक बैठक में चुनाव रणनीति पर चर्चा की जा रही है। यह भी सामने आया है बैठक मे प्रत्याशियों के नामों पर भी विचार किया जा रहा है। मलायम-अखिलेश की बंद कमरे की इस बैठक में कोई तीसरा शख़्स मौजूद नहीं था।

यह भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से किसानों को वापस मिलेगी जमीन, जानिए सुप्रीम कोर्ट का कौन सा है ये फैसला?

अखिलेश ही होंगे पार्टी के सीएम का चेहरा- मुलायम

सपा पार्टी के मचे दंगल में आखिरकार बाप को बेटे के आगे झुकना पड़ा। दरअसल मुलायम ने सोमवार को साफ कर दिया कि अखिलेश ही पार्टी के सीएम का चेहरा होंगे। उन्होने पार्टी टूटने के विवाद पर मुलायम ने कहा कि पार्टी टूटने का सवाल ही नहीं उठता है और अखिलेश ही पार्टी के सीएम का चेहरा होंगे। पार्टी प्रदेश भर में अखिलेश के लिए प्रचार करेगी।

यह भी पढ़ें- मुलायम का बड़ा दाव, यूपी चुनाव में आजम खां हो सकते हैं सीएम का चेहरा!

आपको बता दें कि सोमवार को ही मुलायम सिंह ने दिल्ली पहुंचकर चुनाव आयोग में पार्टी के साईकिल चुनाव चिन्ह पर दावा किया था। साथ ही कहा था कि पार्टी के सिंबल का फैसला चुनाव आयोग ही करेगा, लेकिन सोमवार शाम मुलायम के तेवर बदले और उन्होंने अपने बेटे अखिलेश के सामने घुटने टेक दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here