लखनऊ! आज के समय में लोग कहते हैं कि लोगों का शिक्षित होना बहुत जरुरी है. क्योंकि जब लोग पढ़े-लिखे होंगे तो वह कोई भी ऐसी हरकत नहीं करेंगे जिससे दूसरों को कोई चोट पहुंचे या उन्हें किसी भी तरह का कोई नुक्सान पहुंचे. लेकिन दुनिया में कुछ ऐसे लोग भी है जिनका पढना-लिखना सब बेकार है.

आपको बता दें अभी हाल ही का एक मामला सामने आया है जिसमें एक पति ने पत्नी की जुबान ही काट दी. रूड़की से पीएचडी कर रहे एक शख्स जब हैवानियत  की साडी हदें पार करके पत्नी की म्जुबान कटी तो उसे जरा-सा भी अफ़सोस नहीं हुआ.

उस शख्स ने बताया उसकी पत्नी किसी बात को लेकर काफी समय से उससे बहस कर रही थी. जिसके बाद गुस्सा कर उसने उसकी  जीभ ही काट दी. दिल दहला देने वाली ये घटना उत्तर प्रदेश के कानपुर के बर्रा थाना क्षेत्र की है. हैरानी की बात तो ये है कि पीड़िता का पिता खुद पुलिस में दारोगा के पद पर हैं, लेकिन इसके बावजूद उन्हें अपनी बेटी को न्याय दिलाने के लिए भटकना पड़ रहा है. आरोपी ने इस घटना के पीछे एक अजीबोगरीब वजह बताई है. उसका कहना है कि पत्नी की जुबान कैंची की तरह तेज चलती थी, इसलिए उसने उसकी जुबान ही काट दी. फिलहाल आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है.

इस मामले में न्याय के लिए थाने के चक्कर काट रहे पीड़िता के पिता ने एसएसपी से भी मुलाकात की. इस दौरान पीड़िता भी उनके साथ ही थी. पिता रामकिशोर शंखवार ने बताया कि उनकी बेटी वंदना की शादी बर्रा थाना क्षेत्र के रहने वाले आकाश के साथ 28 नवंबर, 2017 को हुई थी. उन्होंने शादी पर करीब 12 लाख रुपये खर्च किए थे. पीड़िता ने कहा शादी के बाद से ही आकाश उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगा था. यहां तक कि वो उसके साथ मारपीट भी करता था. 12 सितंबर की रात को भी उसने  वंदना को बेरहमी से पीटा था, जिससे उसका सिर फट गया था.

पीड़िता का आरोप है कि पति आकाश ने 6 नवंबर को दीपावली से एक दिन पहले उसे जबरदस्ती नशीला पदार्थ खिलाया और उसकी जीभ काट दी. इसके बाद पीड़िता ने पड़ोसियों से मदद मांगी और अपनी हालें-ए-दास्तां घरवालों को बताई. आपको बता दें इस मामले में पुलिस का कहना है कि पीड़िता का मेडिकल रिपोर्ट जब आ जाएगा, उसके आधार पर आरोपी के खिलाफ और धाराओं के मामले दर्ज कर उसे कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here