To convert your car into a smart one follow this steps

इन दिनों ऑटोमोबाईल सेक्टर में रोजाना नए-नए बदलाव देखने को मिल रहे हैं और तकनीक के मामले में कई नए फीचर्स जोड़े जा रहे हैं. कार की बात होती है तो सबसे पहले जिस शख्स का नाम लोगों के मन में आता है वह है “जेम्स बांड”. जेम्स बांड की कार में सबसे ख़ास बात जो लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती है वो है उसका ऑटो कंट्रोल. तो आज हम आपको कुछ ऐसे ख़ास सिस्टम बताने जा रहा हैं जिससे आप अपनी कार को भी जेम्स बांड जैसे कार में बदल सकते हैं. तो अगर आप भी चाहते हैं हाईटेक कार तो इन बातों का रखे ध्यान.

To convert your car into a smart one follow this steps

 

ब्लूटूथ :

कार चलाते समय कई बार फोन आते हैं तो पॉकेट में से निकाल कर बात करना पड़ता है. ऐसे में अगर आप कार में बलूटूथ सेट कर लेंगे तो काल्स और म्यूजिक उससे कंट्रोल कर सकते हैं. दरअसल कुछ कारों को छोड़ दें तो यह फंक्शन हर कार में नही होता है. तो ऐसे में अगर आप भी चाहते हैं कि कार में फोन का असानी से इस्तेमाल कर सकें तो इसके लिए आपको ब्लूटूथ सेट करना होगा ऐर फिर अपने सिस्टम को इसके साथ अटैच कर दें.

ड्राईवर असिस्टेंस 

कार चलाते समय सबसे जरूरी होता है ड्राईवर के लिए बाहर के सारे माहौल को समझना जैसे सिगनल, रोड साईन, डाईवर्जन, ट्रेफिक और स्पीड लिमिट जैसी कई जरूरी बातों को ध्यान देना पड़ता है. साथ ही कार के अंदर होने वाले डिस्टर्बेंस से भी ध्यान हटाना होता है. एगर आर एक ड्राईवर हैं तो इन बातों को बखूबी समझ रहे होंगे. तो ऐसी हलचल और डिसटर्बेंस से बचने के लिए कई लक्जरी कार मेकर्स कंपनियां ऐसे फीचर्स कार में इनबिल्ट देती हैं. कार में शोरगुल से ड्राईवर का ध्यान भटकता है इसके लिए वह पहले से ही ऐसे फीचर्स के साथ कार पेश करती हैं. तो आप भी ऐसे डिस्टर्बेंस से बचना चाहते हैं तो इन बातों का ध्यान दे.

डायग्नोस्टिक 

अगर आप कार की हर छोटी से बड़ी गतिविधि पर नजर रखना चाहते हैं तो इसके लिए आप एक छोटा सा काम करें और अड़ेपटर की मदद से हर छोटी बड़ी गतिविधि पर आप जान सकते हैं. जैसे पिएलेक्स किवी वाईफाई अडेपटर की मदद से आपको कार की डायग्नोस्टिक से जुडी हर बात की जानकरी मिलती रहेगी. जैसे इंजन पॉवर, टर्बुलेंस, स्पीड, एक्सिलिरेशन, ब्रेकिंग, फ्यूल, एकनॉमी, आदि का रियल टाईम डाटा आपके फोन या टेबलेट में मिलता रहेगा. बस इसके लिए आपको अडेप्टर को गाडी से और इसके साथ अपना फोन ब्लूटूथ से कनेक्ट करना होगा. इन सभी जानकारियों से आपको समय-समय और यह पता चलता रहेगा कि गाडी कोई दिक्कत तो नहीं है. साथ ही कार के बेहतर पर्फोर्मेसं के लिए ट्यून अप कर सकते हैं.

जीपीएस नेविगेशन

कार में मौजूद सबी ख़ास फीचर्स में जीपीएस नेविगेशन सबसे अहम होतो है. कार में आपको नेविगेशन लेने के लिए एक मल्टीमीडिया सेट लेना होगा जिसमे जीपीएस मैप्स पहले से इनबिल्ट हो. इसकी मदद से आपके फोन में रूट से संबधित सारी जानकारियां आने लगेंगी. आजकल कई कार मेकर्स कंपनियां ऐसे फीचर्स पहले से ही देती हैं. साथ ही अगर आप चाहते हैं कि कार में लगे बड़े स्क्रीन पर यह सारी जानकारियां मिलती रहें तो बस आपको अपना फोम इसके साथ अटैच करना होगा.

वर्चुअल डिस्प्ले 

कार में एक डिस्प्ले तो एक साईज का होता है लेकिन अगर आप चाहते हैं कि कार को हाईटेक करें तो बस इसमे एक खास डिस्प्ले लगा ले जिससे उसमे आपको बढियां और शानदार व्यू मिलेगा. वैसे आम तौर पर हर कार में एक 6 इंच का डिस्प्ले दिया जाता है जो म्यूजिक सिस्टम, नेविगेशन, कालिंग आदि के लिए इस्तेमाल होता है. लेकिन अगर आप सिंगल डिस्प्ले लगा लेंगे तो इससे आपको एक ख़ास बेहद शानदार मजा मिलेगा. गार्मिन नाम का यह खास डिवाइस आपके ड्राइविंग एक्सपीरियंस को बहुत ही शानदार बना देता है. जैसे की आजकल स्मार्टफोन के लिये भी अलग से वर्चुअल डिस्प्ले दिया जाता है और उसे वीडियो का मजा बेहद शानदार हो जाता है.

सेल्फ ड्राइविंग कार 

आज की इलेक्ट्रोनिक और एडवांस टेक्नोलोजी के समय में सबसे शानदार कार है टेस्ला, जिसका हाल ही में एक ख़ास मॉडल पेश किया गया था. इस कार में रडार, कैमरा, सेंसर कई ऐसे स्पेशल फीचर्स से लेस है जो कि बिना ड्राइवर के भी आसानी से कंट्रोल की जा सकती है. दरअसल कार में लगे सभी सेंसर गाडी की स्पीड से लेकर सड़क पर चल रही साडी गतिविधियों को आसानी से ग्रेब कर लेती है और समय-समय पर ऑटोमेटिक कंट्रोल करती रहती है. तो अगर आप भी ऐसे तकनीक चाहते हैं तो कार में दिया गया एक ख़ास फीचर क्रूज कंट्रोल ऑन कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here