इंडियन प्रीमियर लीग के ग्वारवें सीजन के लिए पिछले ही हफ्ते खिलाड़ियों की रिटेंशन पॉलिसी थी। जिसके तहत सभी आठो फ्रेंचाइजियों ने अपने-अपने खिलाड़ी रिटेन किए। नियमानुसार अधिकतम 3 खिलाड़ियों को एक टीम रिटेन कर सकती थी, लेकिन सभी टीमों ने तीन खिलाड़ियों को रिटेन किया, लेकिन इसमें सबसे हैरानी वाली बात ये रही कि कई टीमों ने अपने बड़े खिलाड़ियों को रिटेन नहीं किया, जो इन दिनों जबरदस्त प्रदर्शन कर रहे हैं। हम आपको ऐसे ही खिलाड़ियों का प्रदर्शन दिखाते हैं।

गौतम गंभीर

कोलकाता नाइट राईडर्स के सबसे सफलतम कप्तान और खिलाड़ी गौतम गंभीर को केकेआर ने अगले सीजन के लिए रिटेन नहीं किया और उनकी जगह पर आन्द्रे रसेल और सुनील नरेन को रिटेन करना सही समझा। भले ही गौतम गंभीर को तो नजरअंदाज कर लिया गया हो, लेकिन गंभीर भी किसी से कम नहीं हैं और वो सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। गंभीर ने पंजाब के खिलाफ पहले मैच में 66 रनों की पारी खेल अपने फ्रेंचाइजी को करारा जवाब दिया है।

युवराज सिंह

भारतीय टीम से लंबे समय से बाहर युवराज सिंह को उनकी आईपीएल फ्रेंचाइजी सनराईजर्स हैदराबाद ने रिटेन नहीं किया। युवराज सिंह इससे निराश नहीं हुए और अपनी फ्रेंचाइजी सनराईजर्स हैदराबाद को करारा जवाब देने का मन बनाते हुए सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में शानदार पारी खेली। दिल्ली के खिलाफ युवराज सिंह ने 40 गेंदो में नाबाद 50 रन बनाकर अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभायी।

करूण नायर

कर्नाटक के प्रतिभाशाली बल्लेबाज करूण नायर पिछली बार दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेले। इस दौरान करूण नायर ने जहीर की अनुपस्थिति में कप्तानी का जिम्मा भी संभाला लेकिन करूण नायर को दिल्ली डेयरडेविल्स ने रिटेंशन पॉलिसी में नहीं चुना। करूण नायर ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में पहले दो मैचों में तो 11 और 19 के स्कोर ही बना सके, लेकिन तीसरे मैच में हैदराबाद के खिलाफ 75 रनों की पारी खेल अपने टीम ऑनर को सचेत कर दिया।

दिनेश कार्तिक

तमिलनाडू के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक आईपीएल में कई टीमों का हिस्सा रहे हैं। दिनेश कार्तिक पिछले दो सीजन से जहां गुजरात लॉयंस के लिए खेले वहीं उससे पहले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के हिस्सा रहे। गुजरात लॉयंस के आईपीएल से हटने के बाद आरसीबी की टीम के पास कार्तिक को रिटेन करने का मौका था, लेकिन उन्होंने इस पर ध्यान नहीं दिया। कार्तिक इसी का जवाब अपने बल्ले से दे रहे हैं। और इस टी-20 टूर्नामेंट के पहले दो मैचों में 57 और 71 रनों की तेजतर्रार पारी खेली।

रॉबिन उथप्पा

कोलकाता नाइट राईडर्स के लिए पिछले कुछ सीजन से जबरदस्त प्रदर्शन कर रहे रॉबिन उथप्पा को भी कोलकाता नाइट राईडर्स ने रिटेन करना मुनासिफ नहीं समझा। उथप्पा टी-20 के आला बल्लेबाज हैं और साथ ही विकेट के पीछे भी बढ़िया काम कर सकते हैं।

उथप्पा ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में सौराष्ट्र के लिए खेलते हुए जबरदस्त प्रदर्शन कर रहे हैं। उथप्पा ने मुंबई के खिलाफ 52 रनों की पारी खेल सौराष्ट्र को एकतरफा जीत दिलाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here