इंतजार की घड़ियाँ अब खत्म होने को आई हैं, भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला का आगाज बहुत ही जल्द होने वाला हैं. दोनों टीमों के बीच सबसे पहला टेस्ट मैच गुरूवार, 16 नवम्बर को कोलकाता के ईडन गार्डन मैदान पर खेला जायेंगा.

आप सभी की जानकारी के लिए बता दे, कि हाल में ही जब अगस्त और सितम्बर के महीने में भारतीय टीम ने विराट कोहली की अगुवाई में श्रीलंका का दौरा किया था, तब विराट एंड कंपनी 3-0 से टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रही थी एयर इस बार भी भारतीय क्रिकेट टीम को जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा हैं.

इस लेख के माध्यम से हम आपको उन चुनिन्दा ग्याराह खिलाड़ियों के बारे में बतायेंगे, जो पहले टेस्ट मैच में मेजबान भारतीय टीम का हिस्सा हो सकते हैं.


आइये डालते हैं, एक नजर भारतीय टीम की संभावित ग्याराह पर:-

मुरली विजय 

पेटीएम टेस्ट श्रृंखला के पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम में पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी अनुभवी मुरली विजय के कंधो पर रहेंगी. मुरली विजय एक लम्बे से भारतीय टीम से चोट के कारण बाहर चल रहे थे, लेकिन अब एक बार फिर से सफ़ेद जर्सी में देश के लिए खेलने के लिए तैयार हैं. खास बात तो यह हैं, कि अपने आखिरी रणजी मुकाबले में ही शतक लगाया हैं.

शिखर धवन 

मुरली विजय के साथ पारी की शुरुआत करने की अहम जिम्मेदारी बेहतरीन और अद्दभुत फॉर्म में चल रहे शिखर धवन के ऊपर रहेंगी. हाल में ही जब भारतीय टीम ने श्रीलंका का दौरा किया था, तब टीम इंडिया के गब्बर यानी शिखर धवन ‘मैन ऑफ़ द सीरीज’ रहे थे. इस बार भी धवन के कंधो पर एक बड़ी जिम्मेदारी रहेंगी.

चेतेश्वर पुजारा 

उपरीक्रम में दोनों सलामी बल्लेबाजो के साथ साथ एक महत्वपूर्ण किरदार रन मशीन चेतेश्वर पुजारा के ऊपर भी रहेंगा. घरेलू क्रिकेट में चेतेश्वर पुजारा का बल्ला काफी जोरदार तरीके के साथ रन बरसा रहा हैं. पिछले दो घरेलू मुकाबलों में तो पुजारा एक दोहरा शतक और एक लाजवाब शतकीय पारी खेल चुके हैं. श्रीलंका के खिलाफ भी पुजारा से आक्रामक प्रदर्शन की ही उम्मीद की जा रही हैं.

विराट कोहली {कप्तान}

कप्तान की भूमिका में हर बार की तरह इस बार भी चैंपियन विराट कोहली ही दिखाई देगे. मौजूदा समय में विराट कोहली का प्रदर्शन सातवें स्थान पायदान पर हैं. अपनी दमदार कप्तानी और जोरदार बल्लेबाजी से विराट किंग कोहली लगातार सभी के दिलों पर राज कर रहे हैं. श्रीलंका के विरुद्ध कोहली भारतीय टीम के लिए सबसे बड़े हीरो साबित हो सकते हैं.

रोहित शर्मा 

हार्दिक पंड्या के टीम से बाहर हो जाने के कारण मध्यक्रम की पूरी जिम्मेदारी अब लिमिटेड ओवर के उपकप्तान रोहित शर्मा के ऊपर आ गयी हैं. पहले टेस्ट मैच में रोहित हिटमैन शर्मा का खेलना लगभग पक्का माना जा रहा हैं. इसकी एकमात्र वजह कोलकाता का ईडन गार्डन मैदान हैं और यह बात किसी से भी छिपी नहीं हैं, कि रोहित को यह मैदान कितना रास आता हैं. ऐसे में रोहित भी टीम इंडिया की अंतिम XI का हिस्सा हो सकते हैं.

अजिंक्य रहाणे 

टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे अपनी बल्लेबाजी से मध्यक्रम को मजबूती प्रदान करते हुए दिखाई देगे. वनडे क्रिकेट में लगातार शानदार फॉर्म के साथ रन बनाने वाले अजिंक्य रहाणे टेस्ट टीम में श्रीलंका के खिलाफ तुर्रूप का एक इक्का साबित होगे. रहाणे का टेस्ट रिकॉर्ड भी काफी प्रभावशाली रहा हैं.

रिद्धिमान साहा 

विकेटकीपर की भूमिका में लोकल बॉय रिद्धिमान साहा ही दिखाई देगे. कोलकाता के मैदान को साहा से बेहतर और अच्छे तरीके से कौन भी नहीं जानता. आखिरी बार जब भारतीय टीम ने इस मैदान पर कोई टेस्ट मैच खेला था, तो साहा उस मैच में ‘मैन ऑफ़ द मैच’ रहे थे. टेस्ट क्रिकेट में अपनी कीपिंग स्किल्स से तो रिद्धिमान साहा ने सभी का दिल जीता हुआ हैं.

रविचंद्रन अश्विन 

स्पिन गेंदबाजी का दारोमदार दिग्गज ऑफ़ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के कंधो पर रहेंगा. पिछले काफी समय से आर अश्विन भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम के सबसे बड़े और मुख्य हीरो साबित होते आये हैं. टेस्ट क्रिकेट में तो अश्विन की फॉर्म का कहना ही क्या. हाल में ही काउंटी और रणजी क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वाले अश्विन पर सभी की नजरे बनी रहेंगी.

रविन्द्र जडेजा 

आर अश्विन के साथ स्पिन का कार्यभार ऑल राउंडर रविन्द्र जडेजा सँभालते हुए नजर आयेंगे. खेल प्रेमी बड़ी ही बेसब्री के साथ अश्विन और जडेजा की जोड़ी को एक साथ खेलते देखने के लिए काफी बेताब हैं. रविन्द्र जडेजा भी देश के लिए खेलने को लेकर काफी उत्साहित दिखाई दे रहे हैं. रणजी ट्रॉफी में जडेजा ने अपने हरफनमौला खेल से सभी को प्रभावित किया हैं.

उमेश यादव 

बल्लेबाजो और स्पिन गेंदबाजो के बाद अब बारी तेज गेंदबाजी की आती हैं. टीम इंडिया के पास 15 खिलाड़ियों के दल में चार तेज गेंदबाज हैं. इशांत शर्मा, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी. मगर खेलते शायद दो ही दिखाई देगे. इनमे एक नाम उमेश यादव का हो सकता हैं. उमेश यादव इस साल भारतय टेस्ट टीम के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजो में से एक रहे हैं. कोलकाता में भी यादव से सभी को खासी उम्मीद रहेगी.

मोहम्मद शमी 

उमेश यादव के साथ तेज गेंदबाजी का आक्रमण मोहम्मद शमी निभाते हुए दिखाई देगे. मोहम्मद शमी को अंतिम ग्याराह में शामिल करने की एक सबसे बड़ी वजह यह हैं, कि कोलकाता उनका होम ग्राउंड हैं और उनका प्रदर्शन भी इस मैदान पर काफी शानदार रहा हैं.

शमी अपनी स्विंग और रफ़्तार से आती गेंदों के साथ शुरुआती विकेट दिलाने में कारगार हैं. ईडन गार्डन पर भी खेल प्रेमी मोहम्मद शमी की आग उगलती हुई गेंदों को देखने के लिए बेताब रहेगे.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here