क्रिकेट खेल एक ऐसा खेल है,जिसमें नाम के साथ पैसा शोहरत सबकुछ कमाया जा सकता है। पर यह चीज सबपर लागू नहीं होती। अगर कोई खिलाड़ी मैच फिक्सिंग में फंस जाता है तो उसे अर्श से फर्श आने में जरा भी वक्त नहीं लगता है। ऐसा ही कुछ न्यूजीलैण्ड के आलराउंड क्रिकेटर क्रिस केन्स के साथ हुआ।

एक समय था इसी क्रिकेटर का बोलबाला

 

न्यूजीलैण्ड के हरफनमौला खिलाड़ी क्रिस केन्स एक वक्त में दुनिया के सबसे बेहतरीन आॅलराउंडर माने जाते रहे हैं। पर आज उन्हें कोई पसंद नहीं करता है। वो एक बार न्यूजीलैण्ड के कप्तानी की बागडोर भी संभाल चुके हैं। इसके अलावा केन्स आईपीएल में भी खेल चुके हैं।

जब मैच फिक्सिंग के गर्त में धंसे केन्स

 

क्रिस केन्स का क्रिकेट करियर अर्श से फर्श पर आने का प्रमुख कारण यह रहा, कि जब ललित मोदी ने उन्हें आईपीएल से बाहर का रास्ता दिखा दिया, जिससे खफा होकर केन्स ने मुकदमा दर्ज कर दिया और इसी दौरान जब मैच फिक्सिंग में उनका नाम आने लगा तो उन्होंने इसको लेकर कई बड़े बयान दे डाले।

झूठी गवाही ने किया करियर खराब

इसके अलावा खुद को बचाने के चक्कर में कोर्ट में झूठी गवाही तक पेश कर दिया,लेकिन बाद में उनके साथी ल्यू विसेंट मैच फिक्सिंग की बात को स्वीकर कर लिया। यहीं से उनके क्रिकेट करियर की चांद पर ग्रहण लगने लगा और केन्स मैच फिक्सिंग के आरोप में पूरी तरह से घिर गए।

आज लगा रहे सड़क पर झाड़ू

मौजूदा समय में न्यूजीलैण्ड के हरफनमौला खिलाड़ी क्रिस केन्स की हालत ऐसी है, कि उन्हें पूछने वाला कोई नहीं है। इस वजह से अपने आर्थिक तंगी से झूटकारा पाने के लिए केन्स सड़को पर झाडू लगाते हुए देखे गए। इसके अलावा वे ट्रकों के साथ एयरपोर्ट पर पोछा मारते हुए देखे गए। हालांकि अब तक यह पुष्टि नहीं हो सकी है कि इसका कारण आखिर क्या था कि केन्स को यह काम करना पड़ा।

जानिए कैसा रहा अर्न्तराष्ट्रीय रिकाॅर्ड

बात अगर क्रिस केन्स के अर्न्तराष्ट्रीय आकड़े की बात किया जाए तो इस दिग्गज ने कुल 215 वनडे मैच खेले और अपने बल्ले से कुल 4950 रन बनाए,वहीं 201 विकेट भी झटक कर अपना नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज करा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here