दिवाली के कुछ दिनों पहले सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली और एनसीआर मे पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी थी। इसके बाद से ही तमाम पटाखा विक्रेता हैरान और परेशान दिखे। लेकिन कल दिल्ली-एनसीआर में दिवाली धूमधाम से मनाई गई और लोगों ने जमकर पटाखे जलाए। इसके बाद आज सुबह से ही दिल्ली में चारो तरफ धुएं का गुबार पसरा हुआ है। धुएं में लिपटी दिल्ली में प्रदुषण का स्तर भी कई इलाकों में 4 से 12 गुणा अधिक दिखाई दिया।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में और उसके आस-पास के इलाकों में ये कहते हुए पटाखों के बेचने पर बैन लगाया था कि वह देख सकें की ऐसा करने से दिल्ली में किसी तरह का प्रदुषण के स्तर में कमी आती है कि नहीं। लेकिन सुप्रीम कोर्ट का ये बैन काम नहीं आया और दिल्ली में चारों तरफ प्रदुषण पसरा हुआ है।

दिल्ली के हर इलाके में जले हुए पटाखे बिखरे पड़े हैं। आज के पॉलुशन लेवल की बात करें तो कई जगहों पर प्रदूषण का स्तर सामान्य से 12 गुना तक ज्यादा हो चुका है। साउथ दिल्ली के आरके पुरम इलाके में प्रदूषण का स्तर पीएम 2.5 में लगभग 12 गुना तक गिरावट दर्ज की गई है।

इसके अलावा आनंद विहार, शाहदरा, वजीरपुर, अशोक विहार, करणी सिंह स्टेडियम, ध्यानचंद हॉकी स्टेडियम, जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, ITI जहांगीरपुरी, मंदिर मार्ग, पंजाबी बाग और श्रीनिवासपुरी जैसे इलाकों में भी प्रदूषण का स्तर सामान्य से कई गुना ज्यादा पहुंच गया है। जारी कए गए आकंड़ें रात 11 बजे के हैं और आज सबह होते ही ये स्तर और ज्यादा खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है। जिस तरह से दिल्ली में प्रदुषण का लेवल हाई रहा है इसे देखते हुए ये कहा जा सकता है कि दिल्ली में पटाखों पर लगा बैन किसी काम का नहीं रहा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here