दिवाली रोशनी का त्योहार है, इसे लोग अपने घर पर अपने परिवार वालों और दोस्तों के साथ मिलकर मनाते हैं। लेकिन अपने देश के ही एक राज्य के कुछ किसानों ने दिवाली अपने घरों में नहीं बल्कि अपने खेत में गड्ढ़ों में मनाई। इस तरह से दिवाली मनाने का उनका मकसद बहुत ही खास है जिसके बारे में जानकर आप भी दंग रह जाएंगे।

 

दिवाली मनाने का ये अनोखा नजारा राजस्थान के जयपुर में दिखने को मिला। यहां के नींदड़ गांव के किसानों ने कुछ इसी अंदाज में दिवाली मनाई। दरअसल, इस तरह किसानों ने राज्य की सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है। उनका यह विरोध अपनी जमीन के मुआवजे को लेकर था। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जयपुर में कुछ किसान अपनी  1350 बीघाजमीन के मुआवजे के लिए 2 अक्टूबर से प्रदर्शन कर रहे हैं।

किसानों की इस जमीन को सरकार ने वर्ष 2010 में अधिग्रहित की थी।लेकिन अब गांव के किसान नए लागू हुए भूमि अधिग्रहण कानून के तहत मुआवजे की मांग कर रहे हैं। इससे पहले करवाचौथ के त्योहार पर भी किसानों ने जमीन में समाधि लेकर ही मनाया था।

इसके बावजूद भी सरकार का ध्यान किसानों की तरफ नहीं गया, जिसके बाद लाचार होकर किसान घर से बाहर दिवाली मनाने को मजबूर हो गए। जमीन अधिग्रहण के खिलाफ आन्दोलन करनें वाले किसानों का कहना है कि जबतक सरकार और जयपुर विकास प्राधिकरण हमारी जमीन की अधिग्रहण को निरस्त नहीं करेगी, तब तक ये आन्दोलन जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here