अस्थमा

आजकल ज्यादातर लोगों को सांस की दिक्कत होती रहती है. जिन्हें इस तरह कि दिक्कत होती है उन्हें अस्थमा या दमा की बीमारी होती है. ऐसा तब होता है जब सांस की नली में सुजन हो जाती है. जिसकी वजह से छाती में कसाव होने लगता है और सांस लेने में दिक्कत होने लगती है. कभी कभी जब ज्यादा सांस फूलने लगती है तो गले में सूजन तक हो जाती है.

अस्थमायह बीमारी वैसे तो किसी भी उम्र में हो सकती है लेकिन परहेज से इसे नियंत्रण में लाया जा सकता है।. चलिए आज हम आपको कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में बताएंगे जो आपके लिए कारगर साबित होगा.
मेथी दाना और शहद
एक लीटर पानी में 1 चम्मच मेथी दाना डालकर आधा घंटा उबाल लें. इसे छानकर थोड़ा-सा अदरक का रस और शहद मिलाकर इसका सेवन करें. रोजाना ऐसा करने से अस्थमा कि बीमारी से राहत मिलेगी.
आंवला
विटामिन सी से भरपूर आंवला सेहत के लिए बहुत बढ़िया होता है. एक छोटा चम्मच आंवला पाऊडर का हर रोज सेवन करें इससे आपको राहत मिलेगी.
शहद
शुद्ध शहद को कटोरी में ले कर सूंघने से भी सांस लेने की परेशानी दूर हो जाती है.
सरसों का तेल
सरसों को तेल में कपूर डालकर गर्म कर लें. इस तेल से सीने और पीठ पर मालिश करें. दिन में 2-3 बार मालिश करने से सांस की परेशानी में आराम मिलता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here