मुंबई! दिसंबर का महीना शुरू होते ही गुलाबी ठंड दस्तक देने लगती है. ऐसे में जब आप अपनी रसोई को देखते हैं तो वहां ढेर सारी हरी सब्जियां दिखाई देती है. क्योंकि हम सभी जानते हैं कि इस ठंडक के मौसम में फलों और सब्जियों की भरमार होती है. ऐसे में गाजर एक ऐसी सब्जी जो ठंडक के मौसम में सभी को आसानी से मिल जाती है.

गाजर को हम सलाद, हलवा और सब्जी,आचार,जूस बनाने में इस्तेमाल कर सकते हैं. यह सब्जी सभी के लिए फायदेमंद होती हैलेकिन महिलाओं केलिए यह किसी वरदान से काम नहीं होती है. आइए आज हम आपको गाजर के कुछ ऐसे फायदों के बारे में बताएंगे। जिसकी वजह से ये सब्जी महिलाओं के लिए वरदान साबित होती हैं.

दुनिया में बहुत सारी महिलाएं ऐसी हैं जिन्हे पीरियड्स के दिन में बहुत तकलीफ होती है. बहुत सारी महिलाओं को पीरियड्स के दौरान पेट में दर्द, पैरों में दर्द, स्वभाव में चिड़चिड़ापन और अनियमित स्त्राव की शिकायत रहती है. उन्हें रोजाना गाजर का जूस पीना चाहिए।

अगर आपको पीरियड के दर्द से बचना है और गाजर जूस नहीं पसंद तो आप गाजर भी खा सकते हैं. गाजर का सेवन करने से ब्लड फ्लो भी ठीक हो जाता है और इससे आपको दर्द में भी राहत मिल जाती है.

पीरियड्स के दौरान जब बॉडी से बहुत खून निकल जाता है तो अनीमिया की शिकायत हो जाती है. इन दिनों महिलाओं को आयरन से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए। अगर आप चाहे तो गाजर का सलाद भी खा सकते हो, लेकिन अगर आपको बहुत ज्यादा तकलीफ है तो आपके लिए इसका जूस पीना फायदेमंद रहेगा।

जो लोग गाजर ज्यादा खाते हैं उनमे ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम हो जाता है. बीटा कैरोटीन से भरपूर गाजर कैंसर के खतरे को कम करने में मदद करता है. बता दें, बीटा कैरोटीन एक रसायनिक तत्व है जो एक एंटीऑक्सीडेंट है और इसका हमारे शरीर में अच्छा प्रभाव पड़ता है. हमारे शरीर में पहुंचकर यह पदार्थ विटामिन ए में परिवर्तित हो जाता है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here