दिल्ली वालों में उस वक्त अचानक हलचल मच गई जब जम्मू कश्मीर में एक नेता ने बयान दिया की मोमोज पर बैन लगाया जाएगा. यह बयान सुनते ही दिल्ली वालों को तगड़ा झटका लगा और इसके बाद हर तरफ बस इसी बात की चर्चा चलती रही कि अगर नेता जी की इस बात पर अमल हो गया तो उनका क्या होगा.दिल्ली के निकट फरीदाबाद में भूत ने पड़ोसियों के लिए हाल चाल, बताया मेरी लाश आपके घर में है….

Image result for momoj

एक अंग्रेजी अख़बार के मुताबिक मुताबिक जम्मू कश्मीर के नेता रमेश अरोड़ा ने अपने एक बयान में कहा कि यह मोमोज बहुत ही हानिकारक है, इससे बच्चों पर बुरा असर पड़ता है और इसपर बैन लगा देना चाहिए. उनका कहना था की आजकल बच्चों में मोमोज की बहुत बुरी आदत लग गई है , वो दिन में चार-चार बार मोमो खाते हैं, जोकि उनकी सेहत के लिए बहुत हानिकारक है. इसके साथ में  लाल चटनी खाई जाती है वो शरीर में अल्सर की बिमारी उत्पन कर सकती है. इसलिए जब तक इसको बैन नहीं किया जायेगा बच्चो में इसकी आदत ख़तम नहीं होगी.दिल्ली आये और यहाँ की कुल्फी नहीं खाई तो क्या किया?

Image result for momoj

केवल बच्चे ही नहीं बड़े लोग भी मोमोज के ऐसे आदि हो गएँ हैं कि क्या कहा जाए. खासकर दिल्ली वालों में इसका चलन बहुत बढा है, वो तो इसके ऐसे लती हो गए हैं कि बिना मोमो खाए उनको नींद नहीं आती है.  तो इसके बाद जनता ने भी नेता जी को आड़े हातो लेते हुए कहा कि नेताजी के भाषणों पर भी बैन लगना चाहिए , जो वो शब्द इस्तेमाल करते हैं और उनकी कुछ टिप्पणी हैं जिन्हें बैन कर देना चाहिए.  इसके साथ ही रैलियों में खर्च होने वाले लाखो करोडो रूपए जो खर्चा किये जाते हैं जिसपर रोक लगे जानी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here