डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम को बलात्कार के मामले में कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई है। कोर्ट ने 12  साल बाद इस मामले में अपना फैसला सुनाया है। कड़ी सुरक्षा के बीच रोहतक के सुनारिया जेल में विशेष कोर्ट लगाई गई। जहां सीबीआी की विशेष अदालत ने आरोपी राम रहीम को 10 साल की सजा सुनाई है। 

फैसला सुनाने के पहले हेलीकॉप्टर से जज को जेल लाया गया। कोर्ट रूम में जज के पहुंचने के बाद बलात्कारी बाबा राम रहीम को लाया गया। जहां पर राम रहीम की ओर से रहम की मांग की गई। जज के सजा सुनाते ही राम रहीम जमीन बैठकर रोने लगा। राम रहीम के समर्थकों की गुंडागिर्दी शुरु, सिरसा में 2 गाड़ियों में लगाई आग

साल 2002 का है मामला-

यह मामला 15 साल पहले यानि साल 2002 का है जब एक साध्वी ने प्रधानमंत्री को चिट्ठी भेजकर राम रहीम पर रेप का आरोप लगाया था। 15साल बाद आज साध्वी को इंसाफ मिला है। वहीं सजा का एलान होने के पहले ही बाबा के समर्थकों ने हिंसा शुरु कर दी है। सिरसा मे ंदो गाड़ियां फूंक डाली हैं।

गौरतलब है कि 25 अगस्त को रेप मामले मे सीबीआई की विशेष कोर्ट ने बाबा राम रहीम को रेप का दोषी करार दिया था। इसके बाद डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों ने पंजाब-हरियाणा में जमकर हिंसा की थी। समर्थकों ने जगह-जगह गाड़ियों में आग लगाई थी। हिंसा में अब तक 38 लोगों के मौत की खबर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here