बॉलीवुड की मशहुर एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण को कौन नहीं जानता. हुस्न की मल्लिका दीपिका का आज हर कोई दीवाना हैं. दीपिका पादुकोण की फैन फॉलोइंग भारत देश में ही नहीं, बल्कि विदेशो में भी काफी ज्यादा मात्रा में हैं.

हर कोई दीपिका के अभिनय और उनकी खुबसूरती का दीवाना हैं. अब क्या करे… दीपिका का चार्म ही कुछ ऐसा हैं, कि हर कोई उनकी ओर खिंचा ही चला आता हैं. आप सभी की जानकारी के लिए बता दे, कि कल शुक्रवार, 5 जनवरी को दीपिका पादुकोण ने अपना 32वां जन्मदिन मनाया.

बचपन से बड़े अरमान 

दीपिका पादुकोण बचपन से ही एक बड़ी अभिनेत्री बनाना चाहती थी. उनको बचपन से मॉडलिंग का बहुत ज्यादा शौक था. बचपन में वह अपने स्कूल के दिनों में मॉडलिंग किया करती थी, तो राष्ट्रीय स्तर पर बैडमिंटन भी खेला करती थी. जब वह दसवी में पढ़ रही थी, तब उनकी लम्बी हाईट को देखकर लोगों ने उन्हें मॉडलिंग की दुनिया में कदम रखने को बोला.

किंगफिशर कैलंडर गर्ल बनने से पहले 2005 में दीपिका को सबसे पहले एक साबुन के एड में देखा गया था. यह विज्ञापन लिरिल ऑरेंज सोप का था और उस समय दीपिका की उम्र सिर्फ 18 साल की थी. 2006 में दीपिका को किंगफिशर कैलंडर गर्ल चुना गया और उनके नाम को एक नई पहचान मिली.

जीवन के कहानी ने बदला रुख 

2007 में उनकी पहली फिल्म बॉलीवुड के बेताज बादशाह शाहरुख खान के साथ ‘ओम शांति ओम’ आई यह फिल्म दर्शकों ने काफी पसंद की और दीपिका भी सभी के दिलों पर छा गयी. ॐ शांति ॐ की अपार सफलता के बाद, शांति प्रिया उर्फ़ दीपिका के खाते में अनगिनत फ़िल्में आ गयी.

बड़े से बड़ा दिग्गज उनके साथ काम करना चाहता था. मगर कहानी में सबसे बड़ा ट्विस्ट अभी आना बाकी था. दरअसल यही वह दौर भी था, जब दीपिका का नाम इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ जोड़ा गया.

2007-08 का दौर ना सिर्फ भारतीय क्रिकेट टीम के लिए, बल्कि एमएस धोनी के लिए किसी स्वर्णिम दौर से कम ना था. उस समय हर जगह टीम इंडिया के नाम का डंका बजा करता था, चारो ओर धोनी और उनकी बेखौफ कप्तानी की मिसाले दी जाने लगी थी. धोनी ने मानो सभी पर जादू करके रखा हुआ था.

तभी धोनी की लाइफ में दीपिका पादुकोण ने एंट्री मारी और दीपिका को देखे ही हमारे कप्तान साहब उनके प्यार में क्लीन बोल्ड हो गये. दीपिका और धोनी को उसके बाद कई बार एक साथ देखा गया. इतना ही नहीं दीपिका एमएस धोनी का मैच देखने स्टेडियम तक में आती थी और टीम इंडिया के साथी खिलाड़ी भी धोनी भैया को दीपिका के नाम से चिढ़ाया करते थे.

खबरे तो यहाँ तक भी आती हैं, कि एमएस ने दीपिका को शादी के लिए प्रपोज तक कर दिया था. मगर पिच्चर अभी बाकी थी मेरे दोस्त… दरअसल धोनी और दीपिका की लव स्टोरी के बीच एक धमाकेदार एंट्री मारी सिक्सर किंग युवराज सिंह ने….

दोनों के प्यार के बीच भारतीय टीम के दिग्गज युवराज सिंह आ गये थे, तभी युवराज और दीपिका के प्यार की बातें मीडिया में शेयर होने लगी. सभी कहने लगे धोनी और दीपिका के बीच युवराज आ गये.

हद तो तब हो गई जब दीपिका पादुकोण साल 2007 में जयपुर के मैदान पर युवराज सिंह को चीयर करने पहूँची थी. उस मैच में टीम की कप्तानी कर रहे थे, धोनी. यही नहीं दोनों को कुछ दिनों के बाद मुंबई के एक होटल में भी एक साथ देखा गया था. जो धोनी के दिल टूटने के लिए काफ़ी था.

युवराज और दीपिका की बढ़ती नजदीकियों को देखकर महेंद्र सिंह धोनी ने दीपिका से दूर रहने का फ़ैसला लिया और अपना पूरा ध्यान अपने खेल और देश की कप्तानी में लगा दिया. यही सबसे बड़ी वजह रही, कि दीपिका पादुकोण महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी नहीं बन पायी.

यही नहीं दीपिका ने अपना 22वां जन्मदिन भी युवराज सिंह के साथ ही मनाया था. दीपिका पादुकोण ने भी अपने रिश्ते आक्रामक बल्लेबाज़ युवराज सिंह के साथ स्वीकारे थे.

लेकिन दीपिका और युवराज का रिश्ता भी ज्यादा नहीं चल पाया , एक बार इन्हीं दीपिका पादुकोण ने साफ़-साफ़ कह दिया था, कि युवी मेरी निजी ज़िन्दगी में कुछ ज्यादा ही दखल देते हैं, इसलिए हमारा रिश्ता जयादा नहीं चल सकता.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here