अर्न्तराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने चार दिवसीय टेस्ट क्रिकेट मैच कराने का ट्रायल आधार पर मंजूरी दे दी है, जिसकी शुरूआती मैच 26 दिंसबर को दक्षिण अफ्रीका और जिम्बाब्वे के बीच बाॅक्सिंग डे टेस्ट के जरिए खेला जायेगा।

हालांकि इसी बीच भारतीय क्रिकेट कण्ट्रोल बोर्ड ने टीम इण्डिया को चार दिवसीय टेस्ट मैच खेलाने पर महत्वपूर्ण टिप्पणी दी है, जिसमें उन्होंने ऐसी किसी भी संभावनों को सिरे से इनकार करते हुए पुराने फाॅर्मेट के साथ बने रहने की बात कहीं है।

नहीं खेलेगी चार दिवसीय टेस्ट मैच!

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने अपने नाम को उजागर नहीं करने की शर्त पर पीटीआई से खास बातचीत में कहा कि

“भारतीय टीम फिलहाल मौजूदा समय में किसी भी चारदिवसीय टेस्ट मैच में भाग नहीं लेगी। भारत जो भी टेस्ट मैच खेलेगा वह पांच दिनों का ही रहेगा।

साथ ही जो सिफारिश अनिल कुंबले की अगुवाई वाली क्रिकेट समिति ने की है, उसका अनुपालन बीसीसीआई करना चाह रही है, जिसमें टेस्ट मैचों के दिनों की संख्या पांच दिन ही रखने की बात कहीं गयी थी.”

आईसीसी नहीं देगी कोई आधिकारिक अंक

 

बीसीसीआई का चार दिवसीय टेस्ट मैच नहीं कराने का एक महत्वपूर्ण कारण यह भी है कि इन मैचों को आईसीसी की प्रस्तावित टेस्ट लीग के लिए कोई अंक नहीं दिया जाएगा, जो किसी भी स्थिती में फायदेमंद का सौदा नहीं साबित होने वाला। 

 

इस बात को लेकर अपनी गोपनियता बनाये रखने की शर्त पर बीसीसीआई के उच्च अधिकारी ने कहा कि,’आईसीसी ने यह स्पष्ट कर रखा है कि केवल पांच दिवसीयी टेस्ट मैचों में ही अंक दिए जाएंगे,चार दिवसीय टेस्ट मैच का कोई भी अंक दिया जा सकता है। जिसकी वजह से यह टेस्ट मैच भारतीय टीम के लिए निर्थक साबित हो जाएगा।’

आईसीसी ने दी यह चौकानें वाली मंजूरी

आपकों बता दें, आईसीसी ने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका और जिम्बाब्वे के बीच चार एकदिवसीय टेस्ट मैच कराने की ट्राॅयल मंजूरी दे दी थी, जिसको सम्बन्ध में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेव रिचर्डसन ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि,

“हमारी प्राथमिकता सर्वप्रमुख अर्न्तराष्ट्रीय क्रिकेट को एक ऐसा ढांचा के अन्तर्गत बनाये रखना है, जिससे अर्न्तराष्ट्रीय क्रिकेट खासकर टेस्ट को एक नये संदर्भ और मायने दिये जा सके। ताकि यह आने वाले समय में लाखों युवाओं  के बीच लुभावना बना रहे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here