7 जनवरी से भारत में सयैद मुस्ताक अली जोनल लीग शुरू होने जा रही है। इस लीग में भारत के दो पुराने सुपरस्टार खिलाड़ी युवराज सिंह और हरभजन सिंह भी खेल सकते हैं। ये दोनों खिलाड़ी पंजाब के लिए खेलेंगे वहीं सुरेश रैना भी सयैद मुस्ताक अली जोनल लीग में उत्तर प्रदेश के लिए खेलते हुए नजर आ सकते हैं।

क्या होगा इस स्टार खिलाड़ियों का

 

इससे पहले समाप्त हुए रणजी ट्रॉफी में भी हरभजन और युवराज सिंह पंजाब टीम में थे लेकिन इन दोनों से ज्यादा मैच नहीं खेले। हरभजन ने सिर्फ 2 मैच खेले तो युवराज ने मात्र 1 मैच ही खेला। इस बार के टूर्नामेंट में उम्मीद की जा रही है कि ये दोनों खिलाड़ी पूरा मैच खेलेंगे। सयैद मुस्ताक अली जोनल लीग में दो फुल जोनल और इंटरजोनल टूर्नामेंट्स होंगे। जिसके सारे मैच खेलकर उसके प्रदर्शन के आधार पर ये दोनों बड़े खिलाड़ी आईपीएल निलामी में अपनी कीमत बढ़ा सकते हैं।

हरभजन सिंह 

सबसे पहले हरभजन के बारे में बात करते है, कि कभी मुंबई इंडियंस की कप्तानी कर चुके हरभजन सिंह को इस बार उनके फ्रैंचाइजी ने रिटेन भी नहीं किया। मुंबई इंडियंस की टीम ने रोहित शर्मा, हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह को रिटेन किया है। लिहाजा उन्हें हरभजन से ज्यादा बुमराह और हार्दिक पांड्या के प्रदर्शन पर भरोसा है। हालांकि हो सकता है कि मुंबई इंडियंस निलामी के वक्त अपना राइट डू मैच कार्ड का उपयोग कर हरभजन सिंह को रिटेन कर लें। फिर भी आईपीएल 2018 के ऑक्सन में हरभजन की निलामी और रिटेंशन दोनों ही उनके घरेलू मैचों के प्रदर्शन पर निर्भर करता है।

युवराज सिंह

लगभग हरभजन जैसा ही हाल युवराज सिंह का भी है। उनके भी दो लक्ष्य हैं पहला अंतरराष्ट्रीय टीम में वापसी करना और दूसरा आईपीएल ऑक्सन में अपनी कीमत को बढ़ाना। युवराज के ये दोनों लक्ष्य उनके घरेलू प्रदर्शन पर ही निर्भर है। युवराज सिंह के लिए साल 2018 की सबसे अच्छी खबर ये है, कि उन्होंने हाल ही में हुए एक यो-यो टेस्ट का पास किया जिसकी बदौलत उन्हें साउथ अफ्रीका में होने वाले 3 टी-20 मैचों के लिए चुना गया है। अगर युवराज दक्षिण अफ्रीका में अच्छा खेल दिखाते हैं तो निशिच्त तौर पर आईपीएल निलामी 2018 में उनकी कीमत में इजाफा हो जाएगा।

सुरैश रैना

suresh-raina-

सुरेश रैना का हाल भी कुछ ऐसा ही है। उन्हें भी इस टी-20 लीग में यूपी के लिए चुना गया और हो सकता है कि वहीं इस टीम की कप्तानी भी करें। रैना ने उस लीग के लिए यूपी के कोच सुजीत सोमसुंदर और मंसूर अली खान के साथ अभ्यास करना भी शुरू कर दिया है।

हालांकि हाल ही में हुए रणजी टूर्नामेंट में रैना का प्रदर्शन काफी साधारण था उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में मात्र 105 रन ही बनाए और उनकी टीम एक भी मैच नहीं जीत पाई। फिर भी युवराज की ही तरह रैना ने भी यो-यो टेस्ट को पास करके दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए टीम में जगह बनाई है।

हालांकि उन्हें आईपीएल में उनकी पुरानी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स के फ्रैंचाइजी ने रिटेन कर लिया है। रैना उनके लिए धोनी के बाद दूसरी पसंद थे, क्योंकि रैना आईपीएल में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी है और चेन्नई के लिए उनके आंकड़े काफी अच्छे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here